ALL ग्वालियर संभाग राष्ट्रीय बिग ब्रेकिंग भोपाल संभाग उज्जैन संभाग जबलपुर संभाग सागर संभाग नर्मदापुरम संभाग इन्दौर संभाग CRIME NEWS
मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी भोपाल ने नेपानगर विधानसभा उपचुनाव में शैली कीर को मनोनीत किया सहायक समन्वयक
July 29, 2020 • महेश मावले (सम्पादक) 9407505550 • इन्दौर संभाग

बुरहानपुर(मेहलक़ा अंसारी) पूर्व मुख्यमंत्री एवं मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी भोपाल के अध्यक्ष कमलनाथ के निर्देशानुसार पार्टी के उपाध्यक्ष एवं संगठन प्रभारी चंद्र प्रभाष शेखर ने बुरहानपुर प्रसिद्ध कांग्रेस नेता हरसिमरन सिंह कीर उर्फ़ शैली भैया कीर को नेपानगर विधानसभा उपचुनाव के परिप्रेक्ष्य में प्रचार प्रसार हेतु सहायक समन्वयक मनोनीत किए गए। पार्टी मुख्यालय भोपाल द्वारा जारी पत्र क्रमांक 786/20 दिनांक 27.07.2020 में उन्हें संबोधित कर उल्लेखित किया गया है कि पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष द्वारा मनोनीत प्रभारी एवं जिला कांग्रेस अध्यक्ष से मिलकर एवं समन्वय कर प्रचार प्रसार में सहयोग देने हेतु कहा गया है। नेपानगर विधानसभा चुनाव के पूर्व इस नियुक्ति को जहां महत्वपूर्ण माना जा रहा है, वही शैली भैया के प्रदेश पदाधिकारियों में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ एवं पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव से जीवंत संपर्क होने की पुष्टि होती है। बुरहानपुर के कांग्रेस जनों ने सोशल मीडिया के माध्यम से इस मनोनयन पर शैली भैया को बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए पार्टी के अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ, पूर्व मुख्यमंत्री एवं राज्यसभा सदस्य दिग्विजय सिंह, पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव का आभार माना है। कांग्रेस पार्टी ने नेपानगर विधानसभा उपचुनाव के लिए जहां कमर कस ली है। प्रदेश संगठन द्वारा पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह एवं हरदा के विधायक को नेपानगर विधानसभा चुनाव का प्रभारी नियुक्त किया गया है, वही प्रशासनिक स्तर पर भी जिला कलेक्टर बुरहानपुर के निर्देशन में मध्य प्रदेश निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार कार्यवाही प्रारंभ होने के समाचार प्राप्त हो रहे हैं। कलेक्टर बुरहानपुर के निर्देशन में की जा रही प्रशासनिक कार्रवाई से यह अनुमान लगाया जा सकता है कि निकट भविष्य में अति शीघ्र नेपानगर में उपचुनाव होना संभावित है। भाजपा जिलाध्यक्ष मनोज लधवे ने नेपानगर विधानसभा की ग्रामीण क्षेत्रों का दौरा करके कार्यकर्ताओं से बातचीत करके बूथ लेवल पर कमेटियों का गठन किया है। नेपानगर उप चुनाव में उम्मीदवारों के नामों की घोषणा करने में भाजपा और कांग्रेस में अभी मंथन का दौर जारी है। नेपानगर से कांग्रेस की आदिवासी विधायिका श्रीमती सुमित्रा कासडेकर के त्यागपत्र देने से एवं भाजपा में शामिल होने से नेपानगर की सीट रिक्त हुई है। बताया जाता है कि भाजपा ने अपनी रणनीति के तहत उन्हें ही टिकट प्रदान करने का आश्वासन दिया है लेकिन अंदरूनी तौर पर क्या तय हुआ है? और उन्हें टिकट दिया जाता है अथवा नहीं यह भविष्य के गर्त में है। लेकिन उनके अचानक एवं रहस्यमई ढंग से त्यागपत्र देने से जहां सभी अचंभित हैं वही क्षेत्र में उनकी छवि पर भी विपरीत प्रभाव पड़ा है। माना जा रहा है कि उनके एक्साइज विभाग के एक प्रतिनिधि के नोट कांड में शामिल होने से उन पर राजनीतिक रूप से भाजपा में शामिल होने का दबाव होने के साथ बड़ी रकम भी लेने का आरोप लगा है। भाजपा में भी टिकट बंटवारे को लेकर गुट बंदी दिखाई दे रही है लेकिन यह देखने वाली और दिखाने वाली गुट बंदी है। अंदर से सब कुछ रणनीति के तहत तय हो चुका है। नेपानगर विधानसभा उप चुनाव का टिकट फाइनल करने में एवं नेपानगर सीट निकालने में क्षेत्रीय सांसद एवं प्रदेश भाजपा के पूर्व अध्यक्ष की महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी। लेकिन अभी तक के उनकी ओर से इस मुद्दे पर मौन धारण किया गया है और कोई बात उनकी ओर से सार्वजनिक नहीं हो रही है।