ALL ग्वालियर संभाग राष्ट्रीय बिग ब्रेकिंग भोपाल संभाग उज्जैन संभाग जबलपुर संभाग सागर संभाग नर्मदापुरम संभाग इन्दौर संभाग CRIME NEWS
नर्मदा जिनिंग की जमीन पर हुआ नपा का अधिपत्य....... कृषि मंत्री कमलपटेल ने कहा जो वादा किया उसे निभाया....
May 13, 2020 • MAHESH MAWLE (EDITOR) 9407505550 • इन्दौर संभाग

..
हरदा । नर्मदा जिनिंग एंड प्रेसिंग फैक्ट्री हरदा को लीज ( पट्टे) पर आवंटित खसरा क्रमांक 58, 56, 56/1 रकबा 6.43 एकड़ भूमि 
वापस लेकर गरीब आवासीहीनों
के प्रधानमंत्री आवास बनवाने की बात पर अडिग क्षेत्रीय विधायक कमलपटेल ने मंत्री बनते ही पहला कदम नगरीय प्रशासन विभाग मध्यप्रदेश सरकार आयुक्त पी.नरहरि से आदेश जारी कर नगरपालिका हरदा को तुरंत कार्रवाई के आदेश जारी किए ।   
 वर्ष 1989 में 30 वर्ष के लिए खसरा कमांक 58, 56, 56/1 रकबा 6.43 एकड़ बहुमूल्य भूमि हरदा नगर के बीचों बीच जिनिंग एवं प्रेसिंग कार्य के विस्तार के लिए लीज (पट्टे) पर दी गई थी।[ 
मध्यप्रदेश सरकार में कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा है कि हरदा नगर की नर्मदा जीनिग प्रेसिंग फैक्टरी को नगरपालिका द्वारा जीनिग प्रेसिंग फैक्टरी के लिए यह भूमि दी गई थी किन्तु उसका औचित्य समाप्त होने पर जमीन नगरपालिका ने वापस ली है । क्षेत्रीय विधायक और प्रदेश के कृषि मंत्री कमलपटेल ने दूरभाष पर जानकारी देते हुए बताया कि हरदा नगर के मध्य क्षेत्र में स्थित इस भूमि का उपयोग जनता के हित में हो यही उनकीं प्राथमिकता होगी,उन्होंने बताया कि निर्धनो के लिए इस जमीन पर आवास  बनाए जानें का वादा उन्होंने हरदा की जनता से किया था।
शीघ्र ही इस दिशा में कार्रवाई की जाएगी । उन्होंने कहा कि जो कहा सो हरदा की जनता के हित में कर दिखाया है । 
क्या है पूरा मामला - हरदा जिले में विगत 18-20 वर्षों से कपास उत्पादन बंद हो गया है। गेहूं और चने की कृषि की जा रही है इस कारण से उक्त फेक्ट्री में जिनिंग एवं प्रेसिंग कार्य पूर्णतः बंद हो गया है उक्त भूमि की लीज (पट्टा) दिनांक 31.03.2019 को समाप्त हो गई है। उक्त भूमि पर जाने हेतु कोई रास्ता नहीं है  तत्कालीन मुख्य नगरपालिका अधिकारी  दिनेश मिश्रा द्वारा शासन को असत्य जानकारी देकर कि उक्त भूमि पर चारों ओर से कोई शासकीय रास्ता नहीं है जबकि उक्त भूमि की चतुर्सीमा में अपने शपथपत्र में पार्टनरों ने अपने घोषणा पत्रों में भी स्वीकार किया है कि एक ओर छीपानेर रोड से उक्त भूमि लगी हुई है जहाँ उसे उक्त भूमि पर जाया जा सकता है एवं दूसरी ओर शासकीय स्कूल की भूमि भी लगी हुई है। इस चतुर सीमा अनुसार छीपानेर रोड से उक्त बहुमूल्य भूमि लगी हुई है। इस संबंध में कमल पटेल ने हरदा मे आयोजित पत्रकार वार्ता में बताया था कि  तत्कालीन मुख्य नगर पालिका अधिकारी द्वारा भ्रामक एवं असत्य जानकारी देकर शासन को गुमराह किया गया है। इस कारण तत्कालीन मुख्य नगर पालिका अधिकारी  दिनेश मिश्रा के विरूद्ध भी असत्य जानकारी देने पर दण्डात्मक कार्यवाही हेतु रिपोर्ट दर्ज कराने की कार्यवाही करें। अब देखना यह है कि नगरीय प्रशासन विभाग आगे क्या कार्रवाई करता है ।
इनका कहना है -
- हरदा नगर पालिका व्दारा शासन के आदेश पश्चात  कार्रवाई कर कल नोटिस जारी किया गया था परन्तु उनकी ओर से कोई उपस्थित नहीं हुआ इसलिए आज एक पक्षीय कार्रवाई कर पंचनामा बनाकर जमीन को शासन के अधीन कर लिया गया है ।
 ज्ञानेंद्र कुमार यादव 
मुख्य नगरपालिका अधिकारी हरदा
-  नगरपालिका व्दारा कार्रवाई कर जमीन पर कब्जा लेकर विडिओग्राफी करवाई गई है । 
गयाप्रसाद सेजकर राजस्व निरिक्षक नपा हरदा