ALL ग्वालियर संभाग राष्ट्रीय बिग ब्रेकिंग भोपाल संभाग उज्जैन संभाग जबलपुर संभाग सागर संभाग नर्मदापुरम संभाग इन्दौर संभाग CRIME NEWS
सिलवानी तहसील के ग्राम सांईखेड़ा में कोरोना पॉजीटिव मरीज मिलने पर कंटेनमेंट एरिया घोषित
June 15, 2020 • महेश मावले (सम्पादक) 9407505550 • भोपाल संभाग

रायसेन। तहसील के ग्राम सांईखेड़ा में कोरोना पॉजीटिव मरीज मिलने पर कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी उमाशंकर भार्गव ने कोरोना संक्रमित मरीज के घर को एपिसेंटर घोषित करते हुए मरीज के घर से व्यवहारिक दूरी के 100 मीटर की परिधि क्षेत्र को कंटेनमेंट एरिया घोषित किया है। कलेक्टर श्री भार्गव ने कोविड-19 संक्रमण महामारी की रोकथाम एवं समुचित प्रबंधन के लिए मप्र शासन के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा जारी महामारी रोग कोविड-19 विनियमन 2020 के अंतर्गत कंटेनमेंट एरिया के सर्विलेंस के लिए दल गठित किया गया है। जारी आदेश के तहत सिलवानी तहसील के ग्राम सांईखेड़ा में कंटेनमेंट एरिया के सर्विलेंस के लिए गठित दल में एसडीएम सिलवानी एलके खरे, तहसीलदार सिलवानी सुनील शर्मा, नायब तहसीलदार सिलवानी कविराज मेहरा, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस सिलवानी प्रेमनारायण गोयल, थाना प्रभारी सिलवानी गिरीश दुबे तथा सिलवानी जनपद सीईओ अशोक उईके को शामिल किया गया है। कंटेनमेंट एरिया के अंतर्गत पूर्ण रूप से आवागमन प्रतिबंधित रहेगा तथा कंटेनमेंट एरिया के सभी निवासी होम कोरेंटाइन रहेंगे। कंटेनमेंट एरिया के लिए सीएमएचओ को विशेष रैपिड रिस्पांस टीम तथा मेडिकल मोबाईल यूनिट का गठन करने के आदेश दिए गए हैं। विशेष रैपिड रिस्पांस टीम में एक फिजिशियन, एपीडिमियोंलाजिस्ट, पैथालॉजिस्ट, माइक्रोबायोलाजिस्ट, डाक्यूमेंटेशन स्टॉफ तथा मेडीकल मोबाईल यूनिट में मेडीकल ऑफीसर, पेरामेडिकल स्टॉफ, लेब टेक्निशियन एवं डाक्यूमेंटेशन स्टॉफ शामिल रहेंगे। कंटेनमेंट एरिया के एक्जिट प्वाइंट पर स्वास्थ्य कर्मचारियों द्वारा सतत स्क्रीनिंग की जाएगी। सभी वार्डवार फ्रंटलाईन स्वास्थ्य कार्यकर्ता एलएचवी, एएनएम, आशा, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सुपरवाईजर टीम वाईस एपीसेन्टर से प्रति टीम घरों का भ्रमण कर जानकारी लेते हुए निर्धारित प्रपत्र में रिपोर्ट नोडल अधिकारी को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंगे। सभी टीम संदिग्ध केस की मॉनीटरिंग प्रतिदिन करेंगे एवं कोविड-19 संक्रमण के संभावित लक्षण बुखार, खांसी, गले में दर्द एवं श्वास लेने में तकलीफ आदि लक्षण होने पर तुरंत रैपिड रिस्पांस टीम को सूचित करेंगे।